Best Romantic Shayari – हटा कर ज़ुल्फ़ चेहरे से


हटा कर ज़ुल्फ़ चेहरे से, न छत पर शाम को जाना,
कहीं कोई ईद न कर ले, अभी रमज़ान बाकी है।