2 Lines Hindi Shayari On Destiny – Muqaddar Shayari 2 Lines Mein


जब भी माँगा वही माँगा जो मुक़द्दर में न था
अपनी हर एक तमन्ना से शिकायत है मुझे !!