Zulf Shayari Hindi Mein – हाथ पहुँचे भी न थे

हाथ पहुँचे भी न थे ज़ुल्फ़ तक “मोमिन”,
हथकड़ी डाल दी ज़ालिम ने ख़ता से पहले

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *