Zarurat Shayari Hindi Mein – मैं भला हाथ दुआओं को

मैं भला हाथ दुआओं को उठाता कैसे…
उसने छोड़ी ही नहीं कोई ज़रूरत बाक़ी..

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *