Tag: Mohabbat Hindi Poetry

Mohabbat Shayari Hindi Mein – कायनात का हर ज़र्रा मुझे

कायनात का हर ज़र्रा मुझे तुझ से जुदा करने पर
जमा हो जाए
मोहब्बत इतनी सस्ती नहीं साहब जो बीच बाज़ार
नीलाम हो जाए



Mohabbat Shayari Hindi Mein – हमने दुनिया में मोहब्बत का

हमने दुनिया में मोहब्बत का असर ज़िन्दा किया है !‼
हमने दुश्मन को गले मिल-मिल के शर्मिन्दा किया है !!