Ruthna Shayari Hindi Mein – मेरे हर अमल को सराह

मेरे हर अमल को सराह कर ये अज़िय्यतें न दिया करो
मेरे जान तुम भी अजीब हो तुम्हें रूठना भी तो चाहिए

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *