Raat Shayari Hindi Mein – ना जाने वो कितने

ना जाने वो कितने नाराज़ है मुझसे,
कल रात ख्वाब में भी मिलें तो बात नही की..