Hindi Shayari – तुम और तुम्हारी चाहत

तुम और तुम्हारी चाहत, मिले ना मिले
ये तो किस्मत की बात है,
पर बड़ा सुकून सा मिलता है
ख्वाबों ख्यालों में तुम्हें अपना मानकर.

Hindi Shayari – कोई दवा नहीं

कोई दवा नहीं चाहिए इन जख्मों को मिटाने के लिए,
तुम्हारी एक मुस्कराहट ही काफी है हमारे जख्मों को सुखाने के लिए।

Hindi Shayari – क्या इल्जा़म लगाओगे मेरी

क्या इल्जा़म लगाओगे मेरी आशिकी पर,

हम तो साँस भी तुम्हारी यादों से पूछ कर लेते है…



Hindi Shayari – सब पा लिया

सब पा लिया तुझसे इश्क करके
.
जो रह गया वो “तू” ही था..!