Hindi Shayari – कोई दवा नहीं

कोई दवा नहीं चाहिए इन जख्मों को मिटाने के लिए,
तुम्हारी एक मुस्कराहट ही काफी है हमारे जख्मों को सुखाने के लिए।



Hindi Shayari – गले से लिपटे हैं

गले से लिपटे हैं वो….बिजली के डर से,,,
ऐ खुदा आसमाँ से कह दो..दो दिन बरसे…