Hindi Shayari – गले से लिपटे हैं

गले से लिपटे हैं वो….बिजली के डर से,,,
ऐ खुदा आसमाँ से कह दो..दो दिन बरसे…



Hindi Shayari – बेशक़ फासले है

बेशक़ फासले है दरमियां हमारे
फिर भी सामने होती हो हमारे
यू ही रहना सुकूँ मिलता है मुझे

आमने_सामने होने का मौका

मिलता है मुझे ।।