Nazakat Shayari Hindi Mein – खुदा जब हुस्न देता है

खुदा जब हुस्न देता है नज़ाकत आ ही जाती है
कदम गिन-गिन के रखतीं कमर बल खा ही जाती है

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *