Minnat Shayari Hindi Mein – अब तुमपे किसी बात का

अब तुमपे किसी बात का भी होता नहीं असर,
मिन्नत करों सवाल करों इल्तिजा करों,

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *