Khamoshi Shayari Hindi Mein – मिलती है ख़ामोशी से ज़ालिम

मिलती है ख़ामोशी से ज़ालिम को सज़ा यारों,
अल्लाह की लाठी में आवाज़ नहीं होती!!

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *