Intezaar Shayari Hindi Mein – तुम आये हो न शब-ए-इन्तज़ार

तुम आये हो न शब-ए-इन्तज़ार गुज़री है
तलाश में है सहर बार बार गुज़री है

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *