Intezaar Shayari Hindi Mein – कह दो इन हसरतों से

कह दो इन हसरतों से कहीं और जा बसें
इतनी जगह कहाँ है दिल-ए-दागदार में
उम्र-ए-दराज़ माँग के लाए थे चार दिन
दो आरजू में कट गए, दो इंतज़ार में

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *