Hont Shayari Hindi Mein – तरस रहे हैं जवाँ फूल

तरस रहे हैं जवाँ फूल होंट छूने को
मचल मचल के हवाएँ बुला रही हैं तुम्हें