Best Heart Broken Shayari – बहुत अन्दर तक तबाही मचाता है

बहुत अन्दर तक तबाही मचाता है …
वो आंसू जो आँखों से ‘बह’ नहीं पाता है……..

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *