Ashq Shayari Hindi Mein – जब भी चुपके से वो

जब भी चुपके से वो ख़्वाबों में चले आते हैं ।
हमारे अश्क़ फिर जाने क्यूँ मुस्कुराते हैं ।।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *