Ashq Shayari Hindi Mein – खुशियों को ढूँढते हो क्यों

खुशियों को ढूँढते हो क्यों ये….. खुशियाँ तो दिल में रहती हैं
कभी मुस्कराहट बन जाती हैं …कभी अश्क़ बन बहती हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *