Month: May 2017

Wafa Shayari Hindi Mein – खुला फ़रेब-ए-मोहब्बत दिखाई देता है

खुला फ़रेब-ए-मोहब्बत दिखाई देता है
अजब कमाल है उस बे-वफ़ा के लहजे में


Zarurat Shayari Hindi Mein – सिर्फ जीने के लिए साँस


सिर्फ जीने के लिए साँस की ज़रूरत है,,,
लेकिन मुकम्मल ज़िन्दा रहने के लिए तुम्हारी

Mulaqat Shayari Hindi Mein – बडी मुद्दत से हुई है

बडी मुद्दत से हुई है तेरी मेरी मुलाक़ात
मिलन को मुकम्मल होने दो आज रात